कहां से आता है सांप में विष

 कहां से आता है सांप में विष

सांप में विष । या सांप में विष कहा से आता है । सांप के शरीर में विष कहा से आता है।


सर्पदंश की घटनाओं के बारे में हम सुनते और अखबारों पढ़ते रहते हैं। क्या आपने कभी विचार किया है, सांप में विष कहां से आता है और यह इतना खतरनाक क्यों होता है कि इससे मौत क्यों हो जाती है? और हम अध्याय में जानेंगे की कहां से आता है सांप में विष । या सांप में विष कहा से आता है । सांप के शरीर में विष कहा से आता है। ।कहां से आता है सांप में विष. सांप के जहर से जुड़ी रोचक जानकारी।

सांप में विष । या सांप में विष कहा से आता है । सांप के शरीर में विष कहा से आता है।


सांप के शरीर में विष कहा से आता है।

सर्प दो तरह के होते हैं। विषैले और विषहीन यानी बिना जहर वाले सांप। सभी जहरीले सांपों के सिर वाले भाग में विष बनाने वाली एक जोड़ी विष ग्रंथियां होती है जो इनकी नलियां से होते हुए विषदन्त और इसके पेशियां तक जाती हैं। विष ग्रंथियों से ही जहर सांप के जबड़े में आता है। ये विष ग्रंथियां सांप के ऊपरी जबड़े में आंख के निचले हिस्से में होती हैं।


 प्रजाति के अनुसार सांप में ग्रंथियों का आकार अलग-अलग होता है। इन दोनों ग्रंथियों में पैदा होने वाला विष नलियों के जरिए विषदन्त तक पहुंचता है। ये विषदन्त नुकीले होते हैं। सर्प अपने शिकार के शरीर में इन्हें डालकर विष से उसे मार देता है। 

सांप में विष । या सांप में विष कहा से आता है । सांप के शरीर में विष कहा से आता है।


या यूं कहे की जब कोई सांप कटता है तो विष दंत शरीर में चुभ जाता है और विष उसके शरीर में चला जाता है। जिससे मौत हो जाती हैं।


सांप की विष देखने में सफेद चिपचिपा, पीला और हल्का हरा रंग का द्रव्य जैसा होता है जो अम्लीय प्रकृति का द्रव्य होता है।




सांप के विष के प्रकार ;_

सांप में दो तरह के विष पाए जाते हैं। न्यूरोटॉक्सिक और हीमोटॉक्सिक।


 न्यूरोटॉक्सिक विष शरीर में जाने पर श्वसन क्रिया में सहायक पेशियों को अवरुद्ध कर देता है जिससे शरीर की मृत्यु हो जाती हैं वही और हीमोटॉक्सिक ऊतकों का विनाश कर हेमरेज की स्थिति बना देता है। 


तो आपने इस अध्याय में जाना की कहां से आता है सांप में विष । या सांप में विष कहा से आता है । सांप के शरीर में विष कहा से आता है। इस तरह के और जानकारी के लिए आगे पढ़ सकते हैं।

Previous article
This Is The Newest Post
Next article

Leave Comments

Post a Comment

Ads Post 1

Ads Post 2

Ads Post 3

Ads Post 4